pmjdy.gov.in | प्रधानमंत्री जन धन योजना खाता 2020 | PMJDY खाता कैसे खोले (फोरम डाउनलोड)

प्रधानमंत्री जनधन योजना | PMJDY Scheme in Hindi

प्रदेश और केंद्र सरकार की ज्यादातर योजनाएं बैंकों से जुड़ गई हैं। एलपीजी गैस सिलेंडर की सब्सिडी भी बैंकों में ट्रांसफर की जा रही है। ऐसी कई योजनाएं हैं, जिनके लिए बैंकों में खाता होना जरूरी है। इस तरह के तमाम पहलुओं को ध्यान में रखते हुए प्रधानमंत्री जनधन योजना की शुरुआत की गई है। लोगों को इसका फायदा भी मिल रहा है। इस आर्टिकल में प्रधानमंत्री जनधन योजना के बारे में विस्तार से बताया जा रहा है। योजना के लिए पात्रता और फार्म भरने का तरीका भी बताया जाएगा। इससे जुड़ी पूरी जानकारी हासिल करने के लिए आर्टिकल को अंत तक पढ़ें।  

प्रधानमंत्री जन धन योजना के लिए पात्रता

  • प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत देश का हर नागरिक खाता खुलवा सकता है। भारत की नागरिकता जरूरी है।
  • दस साल से ज्यादा उम्र के बच्चे भी खाता खुलवा सकते हैं। छात्रवृत्ति की रकम सीधे उनके खातों में ट्रांसफर की जा रही है।
  • प्रमाण के रूप में कोई दस्तावेज नहीं है तो “लो रिस्क” श्रेणी के तहत खाता खोल दिया जाएगा। एक साल के अंदर जरूरी दस्तावेज लगाने होंगे।
  • अगर किसी गजेटेड ऑफिसर द्वारा सत्यापित प्रमाणपत्र है तो उन्हें दस्तावेज के रूप में बैंकों में लगा सकते हैं। खाता खोल दिया जाएगा।
  • किसी बैंक में पहले से ही खाता है और लोग इसे प्रधानमंत्री जनधन योजना से अटैच कर करवाना चाहते हैं तो बैंकों को इसकी जानकारी दे सकते हैं।
  • खाते को स्थांतरित कराया जा सकता है। इस तरह से लोग प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत मिलने वाले लाभ को सीधे हासिल कर सकते हैं।

प्रधानमंत्री जन धन योजना के फायदे

  • सरकार का लक्ष्य है कि परिवार के एक सदस्य का बैंक खाता हो। जीरो बैलेंस पर खाता खोलने के साथ खाताधारक के नाम पर एक लाख रुपये तक का बीमा भी कराया जाएगा।
  • प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत जिन लोगों का खाता बैंकों में खुल चुका है, वे सरकारी योजनाओं के तहत मिलने वाली सब्सिडी को सीधे हासिल कर सकते हैं।
  • प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई वृद्धा पेंशन योजना के तहत मिलने वाली पेंशन की रकम सीधे खाते में भेजी रही है।
  • छात्रों को वजीफा की रकम भी बैंकों के जरिए ही भेजी जा रही है। गैस की सब्सिडी भी अब सीधे बैंकों में भेजी जा रही है।

PM Jan Dhan Account जीरो बैलेंस पर खुल रहे खाते

राष्ट्रीयकृत और निजी बैंकों ने वैसे तो खाता खुलवाने के लिए कैश लिमिट तय की है। किसी बैंक ने न्यूनतम जमा राशि दस हजार रुपये तो किसी बैंक ने न्यूनतम जमा राशि पांच हजार रुपये तक तय की है, लेकिन प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत जीरो बैलेंस पर खाते खोले जा रहे हैं। आप किसी भी बैंक में जाकर खाता खुलवा सकते हैं। इसके लिए आपको किसी भी तरह की राशि जमा करने की जरूरत नहीं है।

प्रधानमंत्री जन धन ऑनलाइन आवेदन कैसे करे

सभी राष्ट्रीयकृत और निजी बैंकों में प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत एप्लीकेशन फार्म मौजूद है। राज्यों के हिसाब से हर भाषा में फार्म को तैयार किया गया है। हिंदी और अंग्रेजी में भी फार्म मिल जाएंगे। खाता खुलवाने के लिए आधार नंबर मांगे जा सकते हैं। गारंटी की अनिवार्यता नहीं है। लोग www.pmjdy.gov.in पर जाकर भी फार्म हासिल कर सकते हैं।

PMJDY ऑनलाइन फार्म के सभी कॉलम को भरें

प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत लोगों को फार्म भरना होगा। बैंकों या ऑनलाइन डाउनलोड करने के बाद फार्म पर अपना नाम, घर का पता, गांव, तहसील, जिला और प्रदेश का नाम लिखना होगा। नामिनी के बारे में भी बताना होगा। सभी जरूरी जानकारी दर्ज करने के बाद फार्म के साथ दस्तावेजों को अटैच करें। आधार कार्ड की कॉपी और पासपोर्ट साइज फोटो को फार्म के साथ अटैच करना होगा। फार्म को बैंक में जमा कर दें। खाता खोल दिया जाएगा।

एक लाख रुपये तक का बीमा कवरेज | PMJDY Insurance Cover

प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत खोले गए खाताधारकों को बीमा कवरेज के रूप में 30 हजार रुपये दिए जाएंगे। इसके लिए अपने खाते को अपडेट रखना जरूरी है। आपात स्थिति में एक लाख रुपये तक का भी कवरेज दिया जा सकता है। यही नहीं, प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत बड़ी संख्या में ऐसे लोग हैं, जिन्हें बीमा कवरेज के रूप में बड़ी राहत दी गई है।

प्रधानमंत्री जन धन द्वारा लोन की व्यवस्था

प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत बैंक में खोले गए खातों पर लोन की व्यवस्था भी की गई है। खाता खुलने के छह महीने के बाद आपको लोन के रूप में 5000 हजार रुपये तक की राशि दी जा सकती है। मोबाइल नंबर खाते से जोड़ दिया जाएगा, जिससे बैंकों से जुड़ी हर तरह की जानकारी आपको मिलती रहेगी। खास बात यह है कि जीवन बीमा सुविधा स्कीम के तहत गंभीर बीमारी और उसके इलाज के लिए 3000 रुपये दिए जाएंगे। दुघर्टना में गंभीर रूप से घायल लोगों को इलाज के लिए एक लाख रुपये तक दिए जा रहे हैं। इसका लाभ 18 साल से लेकर 65 साल तक की उम्र के लोग उठा सकते हैं।

PMJDY Rupay Card

प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत देशभर में खुलने वाले खातों को ध्यान में रखते हुए सभी खाताधारकों को रूपेय कार्ड भी दिए जा रहे हैं। यह एटीएम की तरह है, जिसका इस्तेमाल बैंकों से पैसा निकालने लिए किया जा रहा है। अलग-अलग बैंकों के मुताबिक देश में अब तक 10 करोड़ से ज्यादा लोगों को रूपेय कार्ड जारी किए जा चुके हैं। रूपेय कार्ड जारी करने का सिलसिला जारी है। इसकी जिम्मेदारी ज्यादातर ग्रामीण या फिर लीड बैंकों को दी गई है।

प्रधानमंत्री जन धन खाते में नेट बैंकिंग भी कर सकते हैं

प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत देश में मौजूद राष्ट्रीयकृत बैंकों की 5300 शाखाओं को जोड़ा गया है। बैंकों का काम लोगों का खाता खोलना तो है ही, रूपेय कार्ड जारी करना, लोन देना, बीमा कवरेज जारी करने के साथ ही खाता धारकों को उनके मोबाइल पर बैंकों से जुड़ी तमाम तरह की जानकारी भी मुहैया कराना है। प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत खोले गए खातों को मोबाइल बैंकिंग के जरिए भी अपडेट रखा जा सकता है। खाताधारक नेट बैंकिंग भी कर सकते हैं।

Anand Sivastava