पीएफएमएस स्कॉलरशिप क्या है |ऑनलाइन आवेदन कैसे करे

पीएफएमएस छात्रवृत्ति योजना

केंद्र सरकार पब्लिक फाइनेंशियल मैनेजमेंट सिस्टम (पीएफएमएस) योजना के तहत विद्यार्थियों की एजूकेशन का ख्याल भी रख रही है। इंजीनियरिंग, मैनेजमेंट और साइंस की पढ़ाई के लिए पैसा आड़े न आए, इसके लिए छात्रवृत्ति का इंतजाम किया गया है। विद्यार्थी पीएफएमएस योजना के तहत वजीफा हासिल कर सकते हैं। सरकार ने इसके लिए उन स्कीमों की फेहरिस्त भी तैयार की है, जिसके तहत छात्र-छात्राओं को लाभांवित किया जा रहा है। विद्यार्थी छात्रवृत्ति हासिल करने के लिस ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। इस आर्टिकल में योजना से जुड़े सभी पहलुओं को साझा किया जा रहा है।  

छात्रवृत्ति के लिए पात्रता

  • पब्लिक फाइनेंशियल मैनेजमेंट सिस्टम (पीएफएमएस) छात्रवृत्ति के लिए वही विद्यार्थी आवेदन कर सकते हैं, जो कक्षा 12 की पढ़ाई पूरी कर चुके हैं।
  • छात्र-छात्राओं की उम्र 18-25 साल के बीच होनी चाहिए। इंजीनियरिंग, साइंस, मैनेजमेंट की पढ़ाई के लिए विश्वविद्यालय या कॉलेज में दाखिला जरूर होना चाहिए।
  • विद्यार्थियों की पारिवारिक सालाना आय किसी भी कीमत पर छह लाख से ज्यादा नहीं होनी चाहिए। अगर ऐसा हुआ तो योजना का लाभ नहीं मिलेगा।
  • पीएफएमएस के तहत एक साल में सिर्फ 82, 000 विद्यार्थियों को ही छात्रवृत्ति दिए जाने का प्रावधान है। इसलिए मेरिट में आना जरूरी है।
  • देशभर में आवेदकों की कुल संख्या के हिसाब से सिर्फ 20 फीसदी विद्यार्थियों को ही छात्रवृत्ति प्रदान की जाएगी।  

किन स्कीमों के तहत मिलेगा वजीफा

  • छात्रवृत्ति सिर्फ उन्हीं विद्यार्थियों को प्रदान की जाएगी, जो मान्यताप्राप्त विश्वविद्यालय या कॉलेज में दाखिला ले चुके हैं।
  • एससी वर्ग के विद्यार्थियों को पोस्ट मैटरिक और प्री मैटरिक स्कीम के तहत छात्रवृत्ति प्रदान की जाएगी।
  • छात्र-छात्राओं को मेरिट कम मींस स्कीम के तहत भी वजीफा प्रदान किया जाएगा। एससी वर्ग के विद्यार्थियों के लिए उच्च शिक्षा में भी व्यवस्था की गई है।
  • आरक्षित वर्ग के विद्यार्थियों के लिए इसी तरह ग्रेजुएशन की पढ़ाई के लिए भी छात्रवृत्ति की व्यवस्था की गई है।
  • पिछड़ा यानी ओबीसी वर्ग के विद्यार्थियों को पोस्ट मैटरिक स्कीम के तहत भी छात्रवृत्ति प्रदान की जाएगी। 

 82 हजार विद्यार्थियों को किया जाएगा लाभांवित

सरकार ने इसके साथ यह भी तय कर दिया है कि हर साल कितने विद्यार्थियों को इस योजना के तहत लाभांवित किया जाएगा। पीएफएमएस के तहत हर साल 82 हजार छात्र-छात्राओं को वजीफा दिए जाने का प्रावधान किया गया है। विद्यार्थियों की संख्या ज्यादा बढ़ने पर मेरिट बनाई जाएगी और इसी के आधार पर लाभार्थियों की लिस्ट भी तैयार की जाएगी। विद्यार्थियों को इस क्राइटेरिया को पूरा करना होगा।

जरूरी दस्तावेज | Required Documents for PFMS

  • पीएफएमएस छात्रवृत्ति के तहत आवेदन करने के लिए विद्यार्थियों के पास अपना आधार कार्ड होना चाहिए।
  • छात्र-छात्राओं को बैंक खाता नंबर भी उपलब्ध कराना होगा। आईडी और एडरेस प्रूफ के लिए वोटर आईडी कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस के साथ कॉलेज की आईडी को भी यूज किया जा सकता है।
  • विद्यार्थियों को आय प्रमाणपत्र दिखाना होगा। जाति प्रमाणपत्र भी जरूरी है। कक्षा 12 के अंकपत्र और प्रमाणपत्र भी जरूरी हैं।
  • छात्र-छात्राओं को इसके साथ मौजूदा पासपोर्ट साइज फोटो को भी फार्म के साथ अटैच करना होगा।

पीफएमएस छात्रवृत्ति के लिए ऑनलाइन आवेदन करें

  • विद्यार्थी पीएफएमएस छात्रवृत्ति के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए एप्लीकेशन फार्म भरना होगा।
  • छात्र-छात्राओं को ऑनलाइन एप्लीकेशन फार्म भरने के लिए सबसे पहले पीफएमएस की ऑफीशियल वेबसाइट pfms.nic.in पर विजिट करना होगा।
  • वेबसाइट पर विजिट करने के बाद स्क्रीन पर मौजूद रजिस्टर बटन पर क्लिक करना होगा। इसके बाद एक अकाउंट क्रीएट करना होगा।
  • रजिस्ट्रेशन और अकाउंट क्रीएट करने की प्रक्रिया को पूरा करने के बाद फार्म ओपन हो जाएगा। विद्यार्थी फार्म को भर सकते हैं।

दस्तावेजों को अपलोड करें

  • छात्र-छात्राओं को फार्म पर अपना नाम, माता-पिता और मान्यताप्राप्त विश्वविद्यालय या कॉलेज का नाम लिखना होगा। घर का स्थायी या अस्थायी पता लिखें।
  • गांव, मोहल्ला, तहसील, जिला और प्रदेश का नाम भी लिखना होगा। मोबाइल और बैंक खाता नंबर भी लिखें।
  • सभी जरूरी कॉलम को भरने के बाद दस्तावेजों को कंप्यूटर पर अपलोड करें। सभी जरूरी प्रमाणपत्रों को अपलोड करने के बाद हस्ताक्षर और पासपोर्ट साइज फोटो भी अपलोड करें।
  • अपलोड करने के बाद दस्तावेजों को फार्म के साथ अटैच करें। इसका प्रिंट आउट निकालकर रख लें, ताकि जरूरत पड़ने पर दिखाया जा सके।

पेमेंट स्टेटस भी चेक कर सकते हैं

  • विद्यार्थी अलग-अलग योजनाओं के तहत मिलने वाली छात्रवृत्ति के लिए पेमेंट स्टेटस भी देख सकते हैं। छात्रों को इसके लिए पीएफएमएस की ऑफीशियल वेबसाइट pfms.nic.in विजिट कर सकते हैं।
  • यहां अलग-अलग स्कीम के नाम से छात्रवृत्ति लिस्ट मौजूद है। विद्यार्थी जिस स्कीम से संबंध रखते हैं, उसपर क्लिक कर सकते हैं। 
  • यहां पेमेंट स्टेटस चेक ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद बैंक का नाम और खाता नंबर की इंट्री कर छात्रवृत्ति की पूरी डीटेल हासिल की जा सकती है।
  • विद्यार्थी क्वालीफाइंग लेवल, चयन की प्रक्रिया, छात्रवृत्ति की रकम के साथ योजना की पात्रता से जुड़ी जानकारी भी हासिल कर सकते हैं।

हेल्पलाइन नंबर

विद्यार्थियों को अगर किसी तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है तो वे पीएफएम के हेल्पलाइन नंबर 1800-118-111 पर फोन कर सकते हैं। यह टोल फ्री नंबर है। छात्र पीएफएमएस की ऑफीशियल वेबसाइट [email protected] पर विजिट कर कंप्लेन कर सकते हैं। छात्र-छात्राओं की पूरी मदद की जाएगी।