MP E Pass Online | मध्य प्रदेश कर्फ्यू ई पास (MP Lockdown ePass Portal)

मध्य प्रदेश लॉकडाउन ई-पास

तेजी से फैल रहे कोरोना वायरस को लेकर भारत में लॉकडाउन भले ही किया गया है, लेकिन सरकार ने जरूरी सेवाओं को बंद नहीं किया है। लोग स्वास्थ्य और फूड संबंधित सुविधा हासिल कर सकें, इसके लिए पास जारी करने की व्यवस्था की गई है। मध्य प्रदेश सरकार ने लोगों को और से ज्यादा सहूलियत पहुंचाने के लिए ई-पास जारी करने की व्यवस्था शुरू कर दी है। इस आर्टिकल में लॉकडाउन ई-पास के बारे में विस्तार से बताया जा रहा है। पास हासिल करने का तरीका भी बताया जाएगा। पूरी जानकारी हासिल करने के लिए आर्टिकल पर अंत तक बने रहें।

पास जारी करने का उद्देश्य

प्रदेश में कंपलीट लॉकडाउन के बाद भी जरूरी सेवाओं को जारी रखा गया है। नगर निगम, महापालिका, बिजली विभाग, स्वास्थ्य विभाग, टेलीकॉम आदि सेक्टर में काम हो रहे हैं। सरकारी कर्मचारी अपनी ड्यूटी आसानी के साथ कर सकें, इसके लिए पास जारी करने की व्यवस्था की गई है। इसी तरह जरूरी गुड्स ट्रांसपोटेशन, फूड सप्लाई, मेडिकल ट्रीटमेंट आदि के लिए भी पास जारी किया जा रहा है। लोगों को इसके लिए सरकारी विभागों के चक्कर न काटने पड़ें, इसलिए सरकार की तरफ से ई-पास जारी करने की व्यवस्था भी की गई है।   

MP E Pass Online करने की प्रक्रिया

  • सभी जरूरी सेवाओं के लिए ई-पास को हासिल किया जा सकता है। इसके लिए ऑनलाइन अप्लाई करना होगा।
  • लोग ई-पास के लिए मध्य प्रदेश सरकार की ऑफीशियल वेबसाइट mapit.gov.in/covid-19/ पर विजिट कर सकते हैं।
  • वेबसाइट पर विजिट करने के बाद ई-पास लिंक पर क्लिक करना होगा। यहां एक एप्लीकेशन फार्म भरने को कहा जाएगा।
  • फार्म पर सभी जरूरी जानकारी दर्ज करें। अपना नाम लिखें। ई-मेल आईडी, मोबाइल और आधार नंबर भी लिखना होगा।

MP E Pass के लिए आवेदन की जांच की जाएगी

  • फार्म पर सभी जरूरी जानकारी दर्ज करने के बाद सबमिट ऑप्शन पर क्लिक कर दें। आवेदन पूरा हो जाएगा।
  • आवेदन पूरा होने के बाद लोकल एडमिनिस्ट्रेशन द्वारा इसकी जांच की जाएगी। सब कुछ सही पाए जाने के बाद पास जारी किया जाएगा।
  • आवेदकों के ई-मेल या फिर मोबाइल पर वाट्सऐप के जरिए भी लॉकडाउन ई-पास जारी किया जा सकता है।
  • ई-पास मिलने में हो रही देरी पर आवेदन को ट्रैक भी किया जा सकता है। ऑफीशियब वेबसाइट पर ऑप्शन दिया गया है।

मध्य प्रदेश में किनके लिए जारी होंगे ई-पास

  • मीडिया हाउस
  • पोस्टल सर्विस
  • पुलिस
  • फायर
  • फूड सप्लाई
  • बैंक
  • मेडिकल ट्रीटमेंट
  • ट्रांसपोटेशन
  • मैनुफैक्चरिंग
  • डिस्ट्रीब्यूशन
  • इंटरनेट सर्विस
  • टेलीकॉम
  • कोरियर्स
  • स्वास्थ्य कर्मचारी
  • जूडिशियल ऑफिसर
  • स्टैंडिंग काउंसिल
  • बिजली विभाग
  • नगर निगम
  • जलकल विभाग

मध्य प्रदेश के किन शहरों को मिलेगा MP E Pass

लॉकडाउन को लेकर मध्य प्रदेश सरकार की ओर से जारी किए जाने वाले ई-पास के लिए विदिशा, वेस्ट निमार, उज्जैन, तिकमगढ़, उमारिया, सिंगरौली, सिधी, शिवपुरी, रीवा, सागर, सेहोरा, शेहडोल, शजापुर, शिवपुर, मंदसौर, मोरेना, रतलाम, राजगढ़, रायसेन, निवारी पन्ना, नीमच, नर्सिंगपुर, ईस्ट निमार, गुना, हर्दा, होशांगाबाद, इंदौर, जबलपुर, झबुआ, कटनी, मंडला, बुरहानपुर, छतरपुर, छिंदवाड़ा, दामोह, दतिया, देवास, धार, अगर मालवा, अलीराजपुर, अन्नापुर, अशोकनगर, बालाघाट, बारवां, बेतुल, भिंड, भोपाल आदि जिलों का चयन किया गया है। 

मुख्यमंत्री हेल्पलाइन नंबर पर MP E Pass सम्बंधित शिकायत कर सकते हैं

देशभर में तेजी से फैल रहे कोरोना वायरस को लेकर लागू लॉकडाउन को ध्यान में रखते हुए मध्य प्रदेश की सरकार ने ई-पास जारी करने की व्यवस्था शुरू की है। यह व्यवस्था सिर्फ जरूरी सेवाओं के लिए शुरू की गई है। अगर कोई व्यक्ति जरूरी सेवाओं के नाम पर इसका गलत इस्तेमाल करता है तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। इसके लिए मुख्यमंत्री हेल्पलाइन नंबर जारी किया गया है। लोग 104, 181 और 1100 पर फोन कर शिकायत कर सकते हैं। अगर किसी व्यक्ति को ई-पास जारी नहीं किया जा रहा है तो वे इसपर शिकायत कर सकते हैं।

पास पर वैद्यता दर्ज है

सरकार की ओर से जारी किए जाने वाले ई-पास पर इसकी वैद्यता का जिक्र भी किया गया है। पास कब तक के लिए वैद्य और किस समय तक इसका इस्तेमाल किया जा सकता है, इसके बारे में भी जानकारी दी गई है। ई-पास पर डेट और टाइम, दोनों का जिक्र किया गया है। लिहाजा लोगों के लिए बेहतर है कि नियम के अनुसार ही ई-पास का इस्तेमाल करें। ऐसा नहीं किए जाने पर उनके खिलाफ भी कार्रवाई की जा सकती है।

Anand Sivastava

Leave a Reply