कोरोना कवच ऐप कैसे डाउनलोड करे

MeitY Corona Kavach App

भारत में तेजी से फैल रहे कोरोना वायरस को लेकर सरकार गंभीर हो गई है। पिछले एक हफ्ते के अंदर नए केस और इसकी वजह से होने वाली मौतों की संख्या बढ़ने के बाद केंद्र सरकार की ओर से एक ऐप जारी किया गया है। MeitY Corona Kavach के नाम से जारी इस ऐप के जरिए खुद का बचाव किया जा सकता है। अगर कोई दूसरा व्यक्ति कोरोना से संक्रमित है तो कवच इसके बारे में भी बताएगा। जिनके पास स्मार्ट फोन है, वे इस ऐप का इस्तेमाल आसानी के साथ कर सकते हैं। इस आर्टिकल में कोरोना कवच ऐप ट्रैकिंग ऐप के बारे में विस्तार से बताया जा रहा है, जिसके जरिए आप भी अपना बचाव कर सकते हैं।

MeitY Corona Kavach App कैसे डाउनलोड करें

  • स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण और इलेक्ट्रानिक-सूचना प्रोद्योगिकी मंत्रालय ने कोरोना वायरस (Covid-19) ट्रैकर ऐप लांच किया है।
  • भारत में जिनके पास स्मार्ट फोन है, वे इस ऐप को गूगल प्ले स्टोर से आसानी के साथ डाउनलोड कर सकते हैं।
  • गूगल प्ले स्टोर पर जाने के बाद कोरोना वायरस ऐप दिख जाएगा। नेक्स्ट करने के बाद यूजर्स को लोकेशन से जुड़ी जानकारी देनी होगी।
  •  इसके बाद मोबाइल नंबर और ओटीपी डालकर रजिस्टर किया जा सकता है। इसके बाद ऐप डाउनलोड हो जाएगा।

MeitY Corona Kavach App Online Registration

  • ऐप डाउनलोड करते वक्त एक फार्म को भरना होगा। इस फार्म पर अलग-अलग छह सवाल हैं, जिनका जवाब देना होगा।
  • सभी तरह के यूजर्स से पूछा जाएगा कि उन्हें सांस लेने में किसी तरह की दिक्कत तो महसूस नहीं हो रही है।
  • अगर बदन के किसी हिस्से में दर्द हो रही है, जो इससे पहले नहीं होती थी, तो इसके बारे में भी बताना होगा।
  • इसी तरह अगर आपने किसी ऐसे व्यक्ति से मुलाकात की है, जो अभी हाल ही विदेश यात्रा करके लौटा है, तो इसकी जानकारी देनी होगी।

कोरोना कवच ऐप में बॉडी टेंपरेचर क्या है

  • बॉडी टेंपरेचर के बारे में पूछा जाएगा। खांसी सूखी है या फिर बलगम के साथ आ रही है। गले में खराश या सूखापन तो नहीं है।
  • इस तरह के कुछ सवाल हैं, जो ऐप डाउनलोडर से पूछा जाएगा। सवालों के जवाब “यस” और “नो” में देना होगा। दोनो ऑप्शन मौजूद है।
  • इसी तरह फॉरेन विजिट के बारे में पूछा जाएगा। अगर कोई इस बीच विदेश से लौटकर आया है तो उसे इसकी जानकारी देना होगा।
  • कोरोना वायरस की पहचान के लिए अलग-अलग कलर सेट किए गए हैं, जिनके जरिए इसके लक्ष्ण की जानकारी मिलेगी।

कोरोना कवच ऐप से खुद की जांच करें

  • ऐप के जरिए कोराना वायरस की जांच खुद की जा सकती है। होम पेज पर संक्रमण से जुड़ी बुनियादी जानकारी दी जाएगी।
  • सबसे ऊपर दिख रही पट्टी का कलर स्टेटस की जानकारी देगा। ग्रीन कलर का मतलब है कि सब ठीक है।
  • ऑरेंज यानी गुलाबी कलर का मतलब है कि आपको डॉक्टर के पास जाने की जरूरत है। यलो यानी पीला कलर क्वारंटीन की तरफ इशारा कर सकता है।
  • रेड यानी लाल कलर का मतलब है कि आपको संक्रमण हो गया है। चारों कलर आपकी स्थिति के बारे में बताएंगे।

How To Use MeitY Corona Kavach App

  • लॉकडाउन के बीच अगर जरूरी सामान की खरीद-फरोख्त के लिए घरों से निकलने की मजबूरी है कवन आईकॉन का इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • घर से निकलते समय बीच में दिख रहे कवच आईकॉन पर टैप कर सकते हैं। इसपर प्रेस करने से यह एक्टिवेट हो जाएगा।
  • एक्टिवेट होने के बाद यह आपके मूवमेंट को एक घंटे तक ट्रैक कर सकता है। संपर्क में आने वाले दूसरे व्यक्ति के बारे में यह बताएगा।

कोरोना कवच ऐप कैसे काम करेगा

  • अगर दूसरे यूजर ने ऐप पर खुद को क्वारंटीन या इंफेक्टेड मार्क किया है तो यह ऐप आपको एलर्ट कर देगा।
  • इसकी जानकारी मिलने के बाद आप संक्रमित व्यक्ति से दूर रह सकते हैं। दूसरों को भी एलर्ट किया जा सकता है।
  • इसके लिए यूजर्स के डिवाइस में यह ऐप इंस्टॉल होना जरूरी है। जीपीएस की मदद से लोकेशन ट्रैकिंग सटीक होना चाहिए।
  • लोग इस तरह कोरोना कवच का इस्तेमाल कर खुद का बचाव कर सकते हैं। कोरोना वायरस के लक्षण की जानकारी भी मिल सकती है।

चेक लाइव स्टेटस (Corono Virus Live Cases Updates)

कोरोना ट्रैकिंग ऐप के जरिए आपको इससे प्रभावित देशों और लोगों की जानकारी भी दी जाएगी। लेटेस्ट अपडेट किया जाएगा। यानी कोरोना वायरस से अब तक कितने लोगों की मौत हो चुकी है। कितने लोग इसकी गिरफ्त में हैं। कितने गंभीर हैं और कितने मरीजों को ठीक किया जा चुका है। उन देशों के बारे में भी बताया जा रहा है, जहां कोरोना से जुड़े मामले ज्यादा आ रहे हैं। इटली, फ्रांस, अमेरिका, ईरान, स्पेन, चीन, इंग्लैंड आदि देशों के बारे में अपडेट किया जा रहा है। क्योंकि यहां मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है।

Anand Sivastava