वृद्धजन पेंशन योजना (sspmis.in) बिहार क्या है

बिहार वृद्धजन पेंशन योजना

बिहार सरकार बेरोजगार युवाओं, छात्रों, महिलाओं और अल्पसंख्यक समाज के लोगों के लिए तो गंभीर है ही, बुजुर्गों का भी ख्याल रख रही है। इसी को ध्यान में रखते हुए सरकार की तरफ से वृद्धजन पेंशन योजना शुरू की गई है। इस योजना के तहत बुजुर्ग पुरुष और महिलाओं को वित्तीय सहायता तो प्रदान की ही जी रही है, उन्हें बेहतर तरीके से जिंदगी जीने के लिए जागरूक भी किया जा रहा है। इस आर्टिकल में बताया जा रहा है कि इस योजना में क्या है और आप इससे किस तरह फायदा हासिल कर सकते हैं।

एक हजार रुपये मिलेंगे

बिहार सरकार की ओर से शुरू की गई वृद्धजन पेंशन योजना के तहत पात्रों को हर महीने 1000 रुपये दिए जाएंगे। 60 से 79 साल की उम्र के वृद्धजनों को केंद्र सरकार की ओर से 200, जबकि प्रदेश सरकार की ओर से 800 रुपये प्रति माह दिए जाएंगे। आवेदक बिहार सरकार की ऑफीशियल वेबसाइट पर विजिट कर इस योजना से जुड़ी पूरी जानकारी हासिल कर सकते हैं।

योजना के लिए पात्रता

  •  योजना का लाभ उन्हीं को मिलेगा, जो मूल रूप से बिहार के निवासी हैं। किसी दूसरे प्रदेश के निवासियों को इस योजना का फायदा नहीं मिलेगा।
  • इस योजना का फायदा सिर्फ उन्हीं बुजुर्गों को ही मिलेगा, जो आर्थिक रूप से कमजोर हैं। सरकार ने गाइडलाइन जारी कर दिया है।
  • योजना का लाभ 60 साल की उम्र से ज्यादा बुजुर्ग पुरुष और महिलाओं को मिलेगा। इससे कम उम्र के वृद्धजनों को इसका लाभ नहीं मिलेगा।
  • वृद्धाजन पेंशन योजना का लाभ लेने के लिए जरूरी है कि परिवार का कोई भी सदस्य सरकारी नौकरी में न हो।
  • इस योजना का लाभ इसी शर्त पर मिलेगा, जब बुजुर्ग सरकार की किसी दूसरी स्कीम के तहत पेंशन हासिल न कर रहे हों।

योजना के लिए दस्तावेज

  • बिहार में जो भी लोग इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं, उनके पास वोटर आईडी कार्ड होना चाहिए।
  • अगर किसी कारणवश उनके पास वोटर आईडी कार्ड नहीं है तो वे आधार कार्ड की कॉपी भी लगा सकते हैं।
  • पासपोर्ट साइज की फोटो भी फार्म के साथ अटैच करना होगा। अगर बीपीएल और एपीएल कार्ड हो तो उसकी कॉपी भी फार्म के साथ अटैच कर सकते हैं।
  • इसी तरह इस योजना का लाभ लेने के लिए बुजुर्ग पुरुष और महिलाओं को मूल निवास प्रमाणपत्र भी फार्म के साथ अटैच करना होगा।

ऑनलाइन आवेदन करें

  • बिहार सरकार की ओर से शुरू की गई इस योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता है।
  • अगर आप ऑनलाइन आवेदन करना चाहते हैं तो आपको सरकार की ऑफीशियल वेबसाइट sspmis.in पर विजिट करना होगा।
  • इस वेबसाइट पर क्लिक करने के बाद आपको इसके होम पेज पर योजना का लिंक दिख जाएगा। इस पर क्लिक करना होगा। यहां नई विंडो ओपन हो जाएगी।
  • फार्म को पढ़ने के बाद आपसे इस योजना से जुड़ी जो भी जानकारी मांगी जा रही है, उसे फार्म पर दर्ज करें।
  • फार्म पर योजना से जुड़े जो भी कॉलम दिखाई पड़े, उसे सही-सही भरें। गड़बड़ी होने पर फार्म सबमिट नहीं होगा।
  • सभी कॉलम ठीक तरह से भरने के बाद आपको सबमिट का ऑप्शन दिखाई पड़ेगा, जिसपर क्लिक करना होगा।
  • सबमिट के ऑप्शन पर क्लिक करते ही फार्म भरने की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी। आप इसका प्रिंट आउट भी अपने पास रख सकते हैं।

बुजुर्गों को मिलेगी मजबूती

बिहार सरकार की ओर से शुरू की गई इस योजना के तहत प्रदेश के तमाम बुजुर्गों का ख्याल रखा जा रहा है। सरकार का मानना है कि बुजुर्गों को इससे काफी मदद मिल रही है। जो लोग गरीब हैं और उन्हें परिवार की तरफ से ज्यादा मदद नहीं मिल रही है, पेंशन से काफी राहत महसूस कर रहे हैं। महीने में एक हजार रुपये अगर बहुत ज्यादा नहीं है तो कम भी नहीं है। बुजुर्ग इस राशि का इस्तेमाल अपनी जरूरत के लिए आसानी से कर सकते हैं। उन्हें थोड़े-थोड़े पैसे के लिए दूसरे के सामने हाथ फैलाने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

बैंक में ट्रांसफर होगी पेंशन

सरकार से मिलने वाली पेंशन की रकम सीधे बैंक में ट्रांसफर होगी। इसलिए जरूरी है कि बुजुर्गों के पास अपना बैंक खाता हो। जिनके पास अपना खाता है, उनके लिए राहत की बात है। जिनके पास अपना बैंक खाता नहीं है, वे नजदीकी बैंक शाखा में खाता खुलवा सकते हैं। खाता जीरो बैलेंस पर ही खोला जाएगा। सरकार ने इसमें छूट दी है। सरकारी नुमाइंदों के मुताबिक अगर किसी के पास मोबाइल नंबर है तो वह फार्म पर इसका जिक्र जरूर करें। बैंक की ओर से मेसेज के माध्यम से पेंशन ट्रांसफर की सूचना मोबाइल पर भेजी जाएगी।