Apna Khata Bihar | बिहार भूमि, भूलेख नक्शा, जमाबंदी, खसरा संख्या ऑनलाइन चेक करे

बिहार भूलेख, खसरा, खतौनी, जमाबंदी

बिहार सरकार अपनी ज्यादातर चीजों को डिजिटलाइज कर चुकी है। इस कड़ी में जमीन के रिकार्ड को भी ई-गवर्नेंस से जोड़ दिया गया है। मकान और जमीन से जुड़े दस्तावेजों को देखने और उन्हें हासिल करने के लिए ऑनलाइन व्यवस्था की गई है। इस आर्टिकल में खसरा, खतौनी, जमाबंदी नंबर देखने के साथ मैप रिपोर्ट हासिल करने का तरीका बताया जा रहा है। पूरी जानकारी हासिल करने के लिए आर्टिकल को अंत तक पढ़ना होगा। 

बिहार भूमि, भूलेख ऑनलाइन सिस्टम के फायदे

  • बिहार सरकार राज्य के लोगों को घर बैठे जमीन से जुड़े दस्तावेजों को हासिल करने की सुविधा प्रदान कर रही है।
  • मकान और जमीन के मालिक खसरा, खतौनी, जमाबंदी तो हासिल कर ही सकते हैं, घर का नक्शा भी प्राप्त कर सकते हैं।
  • प्रदेश के निवासियों को जमीन से जुड़े दस्तावेजों की जांच या फिर उन्हें हासिल करने के लिए संबंधित विभागों के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे।
  • ऑनलाइन खसरा, खतौनी हासिल करने के लिए किसी तरह का शुल्क नहीं लगेगा। लोग मुफ्त में ही इन चीजों को प्राप्त कर सकते हैं।

खसरा, खतौनी ऑनलाइन चेक करने का प्रक्रिया

  • बिहार सरकार ने लोगों को ऑनलाइन चेक करने की सुविधा पहुंचाने के लिए ऑफीशियल वेबसाइट जारी की है।
  • प्रदेश के लोग खसरा, खतौनी, जमाबंदी देखने के लिए सरकार की ऑफीशियल वेबसाइट biharbhumi.bihar.gov.in पर विजिट कर सकते हैं।
  • होम पेज पर जमाबंदी पंजी देखें, खाता एवं जमाबंदी पंजी देखें, जमाबंदी पंजी खसरा वार विवरण देखें, नाम से लिंक दिखाई देंगे।
  • लोग अपनी जरूरत के हिसाब से किसी भी लिंक पर क्लिक कर सकते हैं। इसके बाद जिले और क्षेत्र का चयन करना होगा।

सर्च बटन पर क्लिक करें

  • जिले और क्षेत्र का चयन करने के बाद लोगों को सर्च बटन पर क्लिक करना होगा। सर्च बटन पर क्लिक करने के बाद खतौनी और जमाबंदी के विकल्प को चुनें।
  • ऑप्शन चुनने के बाद लोगों को रजिस्टर बटन पर क्लिक करना होगा। ऐसा करते ही बिहार भूलेख, खसरा, खतौनी नकल दिख जाएगी।
  • नकल को देखने के बाद उसका प्रिंट आउट भी निकाल सकते हैं। सिस्टम इसकी इजाजत देता है। लोग यह सुविधा भी हासिल कर रहे हैं।

नक्शा भी देख सकते हैं

  • लोग इसी तरह नक्शा भी देख सकते हैं। इसके लिए क्षेत्र का चयन करने के बाद खसरा संख्या लिखना होगा।
  • खसरा नंबर पर क्लिक करते ही मकान या जमीन मालिक के नाम दिखाई देंगे। नक्शा देखने के लिए मैप रिपोर्ट लिंक पर क्लिक कर सकते हैं।
  • मैप ओपन हो जाएगा। पीडीएफ फाइल को डाउनलोड भी किया जा सकता है। लोग इस तरह खसरा, खतौनी नंबर देखने के साथ मैप रिपोर्ट भी हासिल कर सकते हैं।
  • इसका प्रिंट आउट भी निकाला जा सकता है। जरूरत पड़ने पर प्रिंट आउट को दस्तावेज के रूप में किसी भी विभाग में प्रस्तुत किया जा सकता है।

खाता नंबर भी देख सकते हैं

  • ऑनलाइन खाता देखने के लिए बिहार सरकार की ऑफीशियल वेबसाइट lrc.bih.nic.in पर विजिट करना होगा।
  • होम पेज पर अपना खाता देखें ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। इसके बाद नया पेज ओपन हो जाएगा। यहां मांगी गई जानकारी दर्ज करना होगा।
  • लोगों को इसके बाद जिला, तहसील का चयन करना होगा। मौजा का नाम चुनते ही ढेर सारे विकल्प खुल जाएंगे।

मौजा खातों के नाम दिख जाएंगे |Apna Khata Bihar

  • मौजा को खाते के अनुसार देखें विकल्प पर क्लिक कर सकते हैं। यहां मौजा नाम के पहले अक्षर का चयन करना होगा।
  • इसके बाद सभी मौजा खातों के नाम दिख जाएंगे। यहां अपने मौजा खाते का नाम चुनना होगा। एक सूची ओपन हो जाएगी।
  • यहां मालिक का नाम, पिता, पति का नाम, खाता संख्या और खसरा संख्या के मुताबिक खाता देख सकते हैं।

हेल्पलाइन नंबर पर फोन करें | Helpline Number

लोगों को अगर किसी तरह की दिक्कत पेश आ रही है तो वे इसकी शिकायत भी कर सकते हैं। बिहार सरकार ने इसके लिए हेल्पलाइन नंबर जारी किया है। लोग टोल फ्री नंबर 1800-345-6215 पर फोन कर सकते हैं। इसके अलावा राजस्व और भूमि सुधार विभाग के प्रमुख सचिव को पत्र भी लिखा जा सकता है। लोगों की समस्याओं को निस्तारित किया जाएगा।

Anand Sivastava

Leave a Reply