अटल पेंशन योजना क्या है | APY पात्रता, लाभ, नियम की जानकारी (ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन)

अगर आप सरकारी नौकर नहीं हैं और पेंशन की चाहत रखते हैं तो टेंशन लेने की जरूरत नहीं है। आपकी चाहत जरूर पूरी होगी। केंद्र सरकार ने इसके लिए अटल पेंशन योजना की शुरुआत की है। कोई भी इस योजना के साथ जुड़कर पेंशन का लाभ हासिल कर सकता है। इसके लिए कुछ शर्तों को पूरा करना होगा, जो सरकार की तरफ से तय किया गया है। इस आर्टिकल में अटल पेंशन योजना के बारे में विस्तार से बताया जा रहा है। योजना के सभी पहलुओं को साझा किया जाएगा। पूरी जानकारी हासिल करने के लिए आर्टिकल पर अंत तक बने रहें।

अटल पेंशन योजना कब शुरू हुई

अटल पेंशन योजना को 2015 में शुरू किया गया था। योजना के तहत प्राइवेट कंपनियों में काम करने वालों के साथ छोटे-बड़े व्यापारी भी पेंशन के हकदार हो सकते हैं। उन्हें नियमानुसार इसका फायदा मिलेगा। योजना का मकसद असंगठित क्षेत्रों में काम करने वाले लोगों को फायदा पहुंचाना है। चूंकि बुढ़ापे में उन्हें तमाम तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ता है, इसलिए सरकार ने इसको शुरू किया है।

APY के लिए पात्रता

  • अटल पेंशन योजना के लिए पात्रता तय की गई है। इस योजना का लाभ उन्हीं लोगों को मिल सकता है, जो आयकर स्लैब से बाहर हैं।
  • योजना से जुड़ने के लिए बैंक खाता होना जरूरी है। इसके साथ बैंक अकाउंट को आधार नंबर से लिंक कराना होगा।
  • 18 से 40 साल की उम्र के लोग इस योजना के साथ सीधे जुड़ सकते हैं। पेंशन के लिए कम से कम बीस साल तक निवेश करना होगा।
  • अटल पेंशन योजना के तहत पेंशन के रूप में हर महीने कम से कम एक हजार रुपये और ज्यादा से ज्यादा पांच हजार रुपये मिल सकते हैं।

APY 60 साल की उम्र में मिलेगी

  • बीस साल तक लगातार निवेश करने के बाद जब आवेदकों की उम्र 60 साल हो जाएगी तो उन्हें पेंशन मिलनी शुरू हो जाएगी।
  • अगर कोई व्यक्ति 18 साल की उम्र में इस योजना के साथ जुड़ता है तो उसे हर महीने 210 रुपये निवेश करना होगा।
  • रिटायरमेंट के बाद उसे पेंशन के रूप में हर महीने पांच रुपये दिए जाएंगे। ऐसे लोग, जो आयकर के दायरे में आते हैं, वे इस योजना का हिस्सा नहीं बन सकते हैं।
  • अटल पेंशन योजना के तहत निवेश करने वाले व्यक्ति की अगर मृत्यु हो जाती है तो परिवार के सदस्य को पेंशन दी जाएगी।

योजना की खास बातें

  • रिटायर होने के बाद अगर आप जिंदगी भर पेंशन हासिल करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको एपीवाई में कुछ सालों तक निवेश करना होगा।
  • व्यक्ति द्वारा निवेश करने के साथ ही सरकार अपनी ओर से भी अंशदान देती है। एपीवाई खाता खोलने के लिए इसे आधार नंबर के साथ जोड़ना जरूरी है।
  • योजना के लिए पांच स्लैब बनाए गए हैं, जिसके तहत हर महीने 1000, 2000, 3000, 4000, 5000 रुपये की पेंशन के हकदार हो सकते हैं।
  • स्लैब के हिसाब से लोगों को निवेश करना होगा। पेंशन रिटायरमेंट और 60 साल की उम्र के बाद ही बन सकती है।

स्लैब के हिसाब से ही अटल पेंशन योजना में निवेश करें

  • अगर आप 60 साल के बाद पेंशन के रूप में हर महीने 5000 रुपये चाहते हैं तो आपको 210-1454 रुपये जमा करने होंगे।
  • अगर इस दौरान व्यक्ति की मौत हो जाती है तो पत्नी या नॉमिनी को एक मुश्त रकम के रूप में साढ़े आठ रुपये मिल सकते हैं।
  • अगर आप पेंशन के रूप में हर महीने 2000 रुपये चाहते हैं तो आपको 84-582 रुपये जमा करने पड़ सकते हैं।
  • इस दौरान व्यक्ति की मौत के बाद नॉमिनी को एक मुश्त रकम के रूप में 3 लाख 40 हजार रुपये मिल सकते हैं।
  • इसी तरह पेंशन के रूप में हर महीने 1000 रुपये चाहते हैं तो आपको 42 रुपये से लेकर 291 रुपये तक जमा करने पड़ सकते हैं। 
  • अगर इस दौरान व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है तो नॉमिनी को एक मुश्त रकम के रूप में कुल एक लाख 70 हजार रुपये मिल सकते हैं।

APY की राशि बढ़ सकती है

पीएफआरडीए ने केंद्र सरकार को प्रस्ताव भेजा है। प्रस्ताव में पेंशन की अधिकतम राशि 5000 से बढ़ाकर 10,000 करने की बात कही गई है। इसी तरह प्रस्ताव में निवेश की अधिकतम उम्र 40 साल से बढ़ाकर 50 साल करने की सिफारिश की गई है। अगर प्रस्ताव पर मुहर लग गई तो लोगों को पेंशन के रूप में हर महीने दस हजार रुपये मिल सकते हैं। उनके लिए निवेश राशि तय की जाएगी।

APY के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • बैंक पासबुक
  • मोबाइल नंबर
  • वोटर आईडी कार्ड
  • ड्राइविंग लाइसेंस
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • निवास प्रमाणपत्र

अटल पेंशन फार्म भरने की प्रक्रिया |Atal Pension Yojana Form Online Apply

  • अटल पेंशन योजना के साथ जुड़ने के लिए सबसे पहले किसी भी राष्ट्रीयकृत बैंक में बचत खाता खुलवाना जरूरी है।
  • इसके बाद आवेदन फार्म उपलब्ध कराए जाएंगे। फार्म पर सभी जरूरी जानकारी दर्ज करें। अपना नाम और नॉमिनी का नाम लिखें।
  • जिला और प्रदेश का नाम भी लिखना होगा। जन्मतिथि और जन्म स्थान के बारे में भी लिखना होगा।
  • फार्म पूरा करने के बाद सभी जरूरी दस्तावेजों को इसके साथ अटैच करें। पासपोर्ट साइज फोटो भी फार्म के साथ जरूरी अटैच करें।
  • औपचारिकता के बाद बैंक में अटल पेंशन योजना के तहत बैंक में खाता खोल दिया जाएगा। एलआईसी के लिए भी यही नियम हैं।
Anand Sivastava

Leave a Reply