Aarogya Setu App क्या है | आरोग्य सेतु ऐप गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड कैसे करे

Download Aarogya Setu App | आरोग्य सेतु ऐप

कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए भारत सरकार गंभीर हो गई है। लोगों को इस वायरस से सुरक्षित रखने के लिए अलग-अलग उपाय किए जा रहे हैं। इस कड़ी में आरोग्य सेतू ऐप जारी किया गया है। इस ऐप की मदद लोग नॉवेल कोरोना वायरस से खुद को सुरक्षित रखने की कोशिश कर सकते हैं। इस आर्टिकल में आरोग्य सेतू ऐप के बारे में विस्तार से बताया जा रहा है। ऐप को डाउनलोड करने और इस्तेमाल करने का तरीका भी बताया जा रहा है। आर्टिकल को अंत तक पढ़ें।

NIC ने किया लांच

 भारत में तेजी से फैल रहे कोरोना वायरस को ध्यान में रखते हुए नेशनल इंफोर्मेटिक्स सेंटर (National Informatics centre) ने आरोग्य सेतू ऐप को डेवलप किया है। यह ऐप आईओएस और एंड्रॉयड, दोनों के लिए उपलब्ध है। ऐप का इस्तेमाल कोरोना वायरस को ट्रैक करने के लिए किया जा सकता है। भारत सरकार ने इस ऐप को लांच करते हुए सभी से इसका इस्तेमाल करने को कहा है।

आरोग्य सेतू ऐप कैसे डाउनलोड करे

आरोग्य सेतू ऐप को गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है। इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने इसकी जानकारी दी है। मंत्रालय की ओर से इस ऐप की टेस्टिंग की जा रही थी। टेस्टिंग सफल होने के बाद इसको लांच किया गया है, ताकि कोरोना वायरस को ट्रैक करने की कोशिश की जा सके।

आरोग्य सेतू ऐप ब्लूटूथ की मदद से करता है काम

आरोग्य सेतू ऐप फोन की लोकेशन और ब्लूटूथ सेंसर की मदद से यूजर की मूवमेंट को डिटेक्ट करता है। यूजर को ट्रैक कर संक्रमित लोगों के संपर्क में आने पर इंडिकेट करता है। यानी ऐप यह जानकारी देता है कि यूजर संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आ चुका है। सूचना मिलने पर यूजर उस व्यक्ति से दूरी बना सकते हैं।

Aarogya Setu App से कोविद 19 की जांच कैसे करे

आरोग्य सेतू ऐप आपको कोरोना वायरस से दूर रहने के उपाय बताता है। आपको बताता है कि आप किस तरह सुरक्षित रह सकते हैं। हेल्प सेंटर और खुद की जांच की जानकारी भी देता है। यूजर्स फिलहाल इस ऐप को 11 भाषाओं में देख सकते हैं। हिंदी, अंग्रेजी, गुजराती, पंजाबी, बंगाली और तमिल भाषा में भी इसका इस्तेमाल किया जा सकता है। यह भी कहा जा रहा है कि इसमें थर्ड पार्टी शामिल नहीं है। लोगों की जांच के जरिए जो भी डेटा सामने आएगा, उसे भारत सरकार के साथ शेयर किया जाएगा।

Aarogya Setu App प्ले स्टोर से कैसे डाउनलोड करे

  • भारत सरकार की ओर से जारी आरोग्य सेतू ऐप को गूगल प्ले स्टोर पर जाकर डाउनलोड किया जा सकता है।
  • गूगल प्ले स्टोर पर विजिट करने के बाद आरोग्य सेतू लिखकर सर्च करें। यहां आपको meaty द्वारा डेवलप एप की जानकारी मिलेगी।
  • इच्छुक यूजर्स इस ऑप्शन पर क्लिक कर आरोग्य सेतू ऐप को आसानी के साथ डाउनलोड कर सकते हैं।

कैसे करता है काम आरोग्य सेतू ऐप

  • आरोग्य सेतू ऐप को डाउनलोड करने के बाद इसे सेटअप किया जा सकता है। स्मार्टफोन पर ऐप को ओपन करें।
  • यूजर्स इसके बाद भाषा का चयन कर सकते हैं। लोग जिस भाषा में इसका इस्तेमाल करना चाहते हैं, उसपर क्लिक कर दें।
  • नया पेज खुल जाएगा। इस पेज पर ऐप के इस्तेमाल की जानकारी दी गई है। इसके बाद Register Now ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • यूजर्स से इसके बाद ब्लूटूथ और लोकेशन सेटिंग ऐनेबल करने के लिए कहा जाएगा। मूवमेंट को एक्सेस की जानकारी मांगी जाएगी।

मोबाइल नंबर दर्ज करें

  • मूवमेंट एक्सेस की जानकारी मिलने के बाद यूजर्स से मोबाइल नंबर दर्ज करने को कहा जाएगा।
  • मोबाइल नंबर दर्ज करने के बाद मेसेज के जरिए वन टाइम पासवर्ड (ओटीपी) भेजा जाएगा।
  • ओटीपी दर्ज करते ही आरोग्य ऐप सेटअप हो जाएगा। इसके बाद इसको आसानी के साथ इस्तेमाल किया जा सकता है।

खतरा होने पर सूचित करता है

  • यूजर्स को इस दौरान एक फार्म भरना होगा। फार्म पर पिछली यात्रा, उम्र आदि के बारे में पूछा जाता है, जिसका जवाब लिखना होगा।
  • ऐप हरे और पीले रंग के कोड में जोखिम के स्तर को दर्शाता है। ग्रीन सिग्नल सुरक्षित होने का संकेत है।
  • आपको बताया जाएगा कि सोशल डिस्टेंसिंग को बनाए रखिए। घर पर रहिए। बहुत जरूरी हो तो मास्क लगाकर ही बाहर निकलें।
  • पीले रंग का मतलब है कि खतरा बढ़ गया है। आपको बताया जाएगा कि आप हाई रिस्क पर हैं। आपको तत्काल हेल्पलाइन नंबर पर फोन करने कहा जाएगा।

हेल्पलाइन नंबर पर फोन कर सकते हैं

आरोग्य सेतू ऐप में खुद की जांच का ऑप्शन भी है। इसके लिए सेल्फ एसेसमेंट टेस्ट फीचर पर क्लिक करना होगा। इस ऑप्शन पर क्लिक करते ही आपके लिए चैट विंडो ओपन हो जाएगी। इसमें यूजर्स से उनकी सेहत और लक्षण के बारे में सवाल किए जाएंगे। कुछ गलत समझ आने पर आपको कोविड-19 हेल्थ सेंटर बटन पर क्लिक करने को कहा जाएगा। शहर की लोकेशन तक पहुंचने के लिए स्क्रॉलडाउन करना होगा।

Anand Sivastava